Sunday, January 24हिंदी कहानियों का विशाल संग्रह

Tag: bacchon ki kahaniyan

एग्रीटेक स्टार्टअप लोगों को लंबी अवधि के धन लाभ के लिए खेतों का स्वामित्व और प्रबंधन करने में मदद करता है – Kahani, Hindi Stories Hosachiguru Agritech Startup

एग्रीटेक स्टार्टअप लोगों को लंबी अवधि के धन लाभ के लिए खेतों का स्वामित्व और प्रबंधन करने में मदद करता है – Kahani, Hindi Stories Hosachiguru Agritech Startup

Kahani
Kahani, Hindi Stories - Hosachiguru Agritech StartupKahani : Hosachiguru की स्थापना 2015 में तीन इंजीनियरों ने की थी जिन्होंने बेंगलुरु के बाहरी इलाके में खेती करने के लिए अपनी उच्च-पेमेंट वाली आईटी नौकरियों को छोड़ दिया था। (adsbygoogle = window.adsbygoogle || []).push({}); कोई नया स्टार्टअप खोलना अपने आप में एक चुनौती के साथ ख़ुशी का पल होता है, लेकिन Hosachiguru के लिए यह और ज़रूरी हो जाता है क्योंकि यह स्टार्टअप ना सिर्फ़ ख़ुद को आगे बढा रहा है, बल्कि इस देश के किसानों की आय में भी सुधार करने का काम कर रहा है।Kahani, Hindi StoriesHosachiguru के सह-संस्थापक और निदेशक श्रीराम चितलूर (Sriram Chitlur) ने kahani.hindualert.in को बताया कि -एक खेत का मालिक होना एक भावना है। लोग इस बारे में बात करते हैं कि उनके दादा-दादी के पास कितने और कैसे खेत थे, जिनमे वे छुट्टियों के दौरान...
मोनिका और धीरज द्वारा स्थापित Zealth.ai कोरोना मरीजों की रियल टाइम रिमोट मॉनिटरिंग का वन स्टॉप प्लेटफ़ॉर्म – Hindi Stories

मोनिका और धीरज द्वारा स्थापित Zealth.ai कोरोना मरीजों की रियल टाइम रिमोट मॉनिटरिंग का वन स्टॉप प्लेटफ़ॉर्म – Hindi Stories

Kahani
Hindi Stories - Zealth.ai Founder Monika and Dheerajइस हफ्ते की शुरुआत में कोरोना मामलों में भारत, ब्राजील को पीछे छोड़ते हुए दूसरा सबसे ज़्यादा कोरोना प्रभावित देश बन गया। भारत में अब प्रति दिन लगभग 90,000 कोरोना मामलों की पुष्टि होने लगी है। कोरोना वायरस महामारी भारत के पहले से ही अपंग स्वास्थ्य प्रणाली पर और बोझ डाल रही है, जो अब रोगियों को उचित उपचार प्रदान करने के लिए संघर्ष कर रही है।Zealth.ai Founder Monika and Dheeraj Hindi Stories, Pic Source - Zealth.aiआज हम आपको मोनिका मेहता और धीरज मुंधरा द्वारा स्थापित Zealth.ai की Hindi Stories बताने वाले हैं। कैसे उन्होंने कोरोना महामारी के बीच मरीज़ों के देखभाल के लिए अपने ज्ञान का उपयोग किया और भारत में उन कोरोना मरीज़ों की मदद कर रहे हैं, जो होम आइसोलेशन में रहते हैं।भारतीय स्वास्थ्य सेवा क्षेत्र को मजबूत करने के लिए, सिंगापुर और मुं...
जयपुर डिजाइनर ने अपशिष्ट पेपर को बदल कर 100% बायोडिग्रेडेबल, वाटर-रेसिस्टेंट फर्नीचर बनाया – Hindi Stories

जयपुर डिजाइनर ने अपशिष्ट पेपर को बदल कर 100% बायोडिग्रेडेबल, वाटर-रेसिस्टेंट फर्नीचर बनाया – Hindi Stories

Kahani
Hindi Stories - जब से चीनियों ने लकड़ी की लुगदी को कागज की चादरों में बदलने की प्रक्रिया का आविष्कार किया, तब से दुनिया को इस बहुमुखी उत्पाद से प्यार हो गया है। लेकिन यह प्रक्रिया एक महान वरदान और अभिशाप दोनों है।हां, हमें इससे पैकेज लेबल से लेकर ड्राइंग शीट तक सब कुछ मिलता है। लेकिन कागज बनाने के लिए हर साल लाखों पेड़ों को काट दिया जाता है, जिसका इस्तेमाल दस मिनट में किया जा सकता है। पेड़ को बढ़ने में जीवनकाल लगता है। लेकिन इंसान की जरुरत पूरी करने के लिए इन पेड़ों को चंद घंटों में काट दिया जाता है।क्या पेड़ों को बचाने का कोई उपाय है? - Hindi Storiesअभी इसका कोई स्थायी समाधान तो नही है। लेकिन हम इसके प्रभाव को कम करने की पूरी कोशिश कर सकते हैं। रीसाइक्लिंग इसका एक तरीक़ा है, जिससे हम पेड़ों को बचा सकते हैं। लेकिन printed पेपर में इंक भी होती हैं, इन सबको रिसाइकल करने पर हमें डार्क और रफ श...
Hindi Stories – गुरुग्राम की कंपनी ने लॉंच की 20,000 रुपए की इलेक्ट्रिक बाइक, ड्राइविंग लाइसेंस की जरुरत नहीं

Hindi Stories – गुरुग्राम की कंपनी ने लॉंच की 20,000 रुपए की इलेक्ट्रिक बाइक, ड्राइविंग लाइसेंस की जरुरत नहीं

Kahani
Hindi Stories - गुड़गांव की स्वदेशी कंपनी 'Detel' अपनी स्थापना के बाद से, एक उपभोक्ता इलेक्ट्रॉनिक ब्रांड और कम लागत वाली प्रौद्योगिकियों को विकसित करने में शामिल रहा है। उदाहरण के लिए Detel, 3999 रुपये में एक LCD TV बेचते हैं।Detel EV bike (Hindi Stories)Detel के संस्थापक योगेश भाटिया कहते हैं - मेरी योजना भारत में हर उपभोक्ता तक पहुंचने की है, मैं भारत के हर उपभोक्ता तक पहुंचने की योजना बना रहा हूँ।दो साल पहले, योगेश ने एक मोटर को जोड़कर साइकिल को इलेक्ट्रिक बाइक में बदलने की योजना बनाई। लेकिन, यह बहुत महंगा साबित हुआ।आप Kahani.Hindualert.in में भारत की प्रेरक कहानियाँ - hindi stories पढ़ रहे हैं।उन्होंने बताया कि - एक बार जब हमने साइकिल पर काम करना बंद कर दिया, तो मेरी 16 सदस्यीय अनुसंधान टीम ने यह समझने के लिए जमीनी अनुसंधान शुरू किया कि उपयोगकर्ता एक इलेक्ट्रिक वाहन ख़ासकर Electric Bi...