हिमाचल प्रदेश की एकमात्र महिला बस ड्राइवर – Motivational Story in Hindi

0
41
Motivational Story in Hindi - Seema Thakur
Motivational Story in Hindi - Seema Thakur

Motivational Story in Hindi – स्वागत है, दोस्तो! आज हम आपको हिमाचल प्रदेश की एक ऐसी महिला बस ड्राइवर की कहानी (Motivational Story in Hindi) बताने वाले हैं, जो पूरे हिमाचल में अकेली महिला बस ड्राइवर होने के साथ ही कोरोना महामारी में भी अपने कर्तव्य और लोगों को परिवहन सर्विस देने से पीछे नही हटीं।

जब हम सब घरों में क़ैद थे तब भी वो शिमला के ऊबड़-खाबड़ रास्तों में HRTC की बस लेकर लोगों की मदद के लिए बस ड्राइव करती रहीं।

आइए जानते हैं HRTC की अकेली बस ड्राइवर ‘सीमा’ की कहानी – Motivational Story in Hindi

लेखक, कार्यकर्ता और कानून के विद्वान बोसा सेबेले ने एक बार कहा था, “आगे बढ़ने के लिए महिला से अधिक शक्तिशाली कोई ताकत नहीं है।”

हिमाचल प्रदेश निवासी – ‘सीमा ठाकुर’ इस ताकत का प्रतीक बन गई हैं। हिमाचल प्रदेश रोड ट्रांसपोर्ट कॉरपोरेशन (HRTC) में कुल 8,813 कर्मचारियों में से एकमात्र महिला ड्राइवर होने के नाते, सीमा हर दिन लैंगिक रूढ़ियों को तोड़ रही है।

Motivational Story in Hindi - Seema Thakur
Motivational Story in Hindi – Seema Thakur

सुबह उठने से लेकर शिमला के ऊबड़-खाबड़ रास्तों से गुजरने तक, सीमा यह सब कर रही है। यहां तक कि कोरोनो वायरस महामारी के बीच, वह राज्य में लोगों की मदद करने के लिए लगातार काम कर रही हैं।

आप kahani.hindualert.in में HRTC की महिला बस ड्राइवर सीमा की Motivational Story in Hindi पढ़ रहे हैं।

सीमा ठाकुर ने ANI को बताया –  “मैं हिमाचल प्रदेश राज्य की पहली महिला बस ड्राइवर हूं। मैंने 5 मई 2016 को HRTC में एक ड्राइवर के रूप में जॉइन किया। मैं Covid-19 में भी सेवा कर रही हूं। जैसे की डॉक्टर, नर्स और पुलिसकर्मी भी अभी सेवा कर रहे हैं। मुझे लगता है कि मैं इसी तरह का कर्तव्य पूरा कर रही हूं।

इस कहानी को भी पढ़ें :   दूसरों को फ़ॉलो करने की बजाए अपनी पहचान बनाएँ - Motivational Story in Hindi

Motivational Story in Hindi

सीमा अपने माता-पिता और भाई के साथ रहती हैं, का कहना है कि वह ड्राइविंग से ख़ुद को संतुष्टि पाती है।

मुझे बस ड्राइवर के रूप में लोगों की सेवा करने में खुशी महसूस होती है। मुझे अपने काम के बाद अपने घर में प्रवेश करने पर निरंतर कोरोना से भय लगता है, लेकिन हम सभी सावधानियों और दिशानिर्देशों का पालन करने की कोशिश कर रहे हैं।

मैं सभी से अपील करूंगी कि हमें कोरोना वायरस से खुद को सुरक्षित रखने के लिए आत्म-अनुशासन का अभ्यास करने की जरूरत है।

Motivational Story in Hindi

लॉकडाउन के दौरान और उसके बाद भी, राज्य परिवहन निगम से अपेक्षित अनुमति प्राप्त करने के बाद नागरिकों की सहायता के लिए सीमा ने स्वयं को इसमें शामिल किया। कई स्थानीय लोगों और दैनिक यात्रियों ने पुरुष-प्रधान पेशे में काम करने के उनके साहस और दृढ़ विश्वास की सराहना की।

मीना अधिकारी एक बुजुर्ग महिला यात्री कहती हैं – यह गर्व की बात है और मुझे खुशी है कि एक लड़की Covid-19 के समय में लोगों की सेवा कर रही है। वह एक बहादुर लड़की है और इस क्षेत्र की एकमात्र महिला ड्राइवर है। मैं दूसरों को आगे आकर मानवता की सेवा करने और हिमाचल प्रदेश को एक गौरवशाली राज्य बनाने के लिए कहूंगी।

सीमा की Motivational Story in Hindi लोगों को प्रेरित करने के साथ ही समाज के रुढीवादी क़ायदे-क़ानूनों से लड़ने में भी प्रेरणा देती है।

ऐसी ही Motivational Story in Hindi पढ़ने के लिए हमारे साथ जुड़ें रहें और हमारे फेसबुक पेज को भी लाइक और फ़ॉलो करें।

इस कहानी को भी पढ़ें :   एक राजा की पेंटिंग की हिंदी कहानी - Moral Stories in Hindi